संस्कृत श्लोक नारी शक्ती Sanskrit shloka on women's empowerment

Sanskrit shloka on womens empowerment,nari shakti,womens day






 नास्ति मातृसमा छाया, नास्ति मातृसमा गतिः। नास्ति मातृसमं

त्राणनास्ति मातृसमा प्रिया।।


Meaning:- माता के समान कोई छाया नहीं, कोई आश्रय नहीं, कोई

सुरक्षा नहीं। माता के समान इस दुनिया में कोई जीवनदाता नहीं॥

           >10 Sanskrit Quotes-Famous Sanskrit Quotes


 मातृवत् परदारेषु : पश्यति : एव पंडित


Meaning:- वह जो अन्य स्त्री  को माँ के रूप में देखता है, वह वास्तव में महान है|

 

 नारी राष्ट्रस्य अक्शि अस्ति

 

Meaning:- महिला राष्ट्र की आंख है।

 

 राष्ट्रस्य श्व: नारी अस्ति

 

Meaning:- महिला हमारा कल है।

 

 नारी माता अस्ति नारी कन्या अस्ति नारी भगिनी अस्ति

 

Meaning:- महिला माँ हैमहिला बेटी हैमहिला बहन हैमहिला  सब कुछ है |

 

 नारी अस्य समाजस्य कुशलवास्तुकारा अस्ति

 

Meaning:- महिला समाज की आदर्श वास्तुकार है|

 

 यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता

 

Meaning:- जहाँ महिलाओं की पूजा होती है वहाँ देवता आनंदित  होते हैं|

 

YOU MAY LIKE>> CHECK THESE


Previous
Next Post »