म्यूजिकल famous musical instruments of Manipur and Nagaland in Hindi

In this article we will learn about musical instruments of Manipur and Nagaland

Musical instruments of Manipur and Nagaland

Contents show

फेमस म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ नागालैंड Famous musical instrument of Nagaland 

नागालैंड एक जीवंतपहाड़ी राज्य है जोभारत के चरमउत्तर पूर्वी छोरपर स्थित है, जो पूर्व मेंम्यांमार से घिराहै; पश्चिम मेंअसम; अरुणाचल प्रदेशऔर उत्तर मेंअसम का एकहिस्सा और दक्षिणमें मणिपुर। यहअपनी समृद्ध सांस्कृतिकविरासत के लिएप्रसिद्ध है। राज्य16 प्रमुख जनजातियों और अन्यउपजनजातियों द्वाराबसा हुआ है।प्रत्येक जनजाति रीतिरिवाज, भाषा और पहनावेकी दृष्टि सेविशिष्ट है। यहपीढ़ियों से चली रही लोककथाओंकी भूमि है।

 

 

फेमस म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ नागालैंड हिंदी में  famous musical instrument of Nagaland & Manipur  in hindi

नागालैंड के संगीतवाद्ययंत्र स्वदेशी हैं औरबांस जैसी साधारणचीजों से बनाएजाते हैं। वेशानदार धुनें पैदा करतेहैं और नागासंगीत की धुनमें शामिल होतेहैं। कई लयबद्धवाद्ययंत्र हैं जोनागालैंड संगीत के साथहैं। प्रत्येक जनजातिके पास अपनेरीतिरिवाजों औरसामग्रियों से उपलब्धपारंपरिक उपकरणों का एकअनूठा सेट है।लोगों द्वारा बड़ेपैमाने पर उपयोगकिए जाने वालेसंगीत वाद्ययंत्र बांसमुंह के अंग, कप वायलिन, बांसकी बांसुरी, तुरही, मवेशी की त्वचासे बने ड्रमऔर लॉग ड्रमहैं। कुछ महत्वपूर्णसंगीत वाद्ययंत्र इसप्रकार हैं:

List of musical instruments of Manipur,Nagaland, India

बम्बू माउथ ऑर्गन  Bamboo Mouth organ
 

बम्बू माउथ ऑर्गन यह एक अनूठा माउथ ऑर्गन है जो बास से बना हुवा है यह वाद यन्त्र नागालैंड के फेमस और प्रचीन म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट में से एक है जो की नागालैंड के सभ्यता का प्रतिक है 

बाँस का मुँह वाला अंगनागा लोगों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले सबसे पुराने पारंपरिक वाद्ययंत्रों में से एक हैयह एक बहुत ही सरल साधन है जिसे बनाना  आसान है इस यंत्र की लंबाई लगभग छह इंच और चौड़ाई आधी है। इस यंत्र को मध्यरात्रि वाद्ययंत्र के रूप में भी जाना जाता है

 

बम्बू माउथ ऑर्गन, नागाओंद्वारा प्रयुक्त सबसे पुरानेपारंपरिक वाद्ययंत्रों में सेएक है। यहबांस से बनाएक बहुत हीसरल उपकरण है, फिर भी बहुतप्रभावी और करामातीहै। इस संगीतवाद्ययंत्र की बनानेकी प्रक्रिया बहुतकठिन काम नहींहै। इसकी पूरीलंबाई लगभग 6 इंचऔर चौड़ाई केवलआधा इंच है।एनी, इस अंगको बनाने केलिए एक प्रकारकी पतली बांसका उपयोग कियाजाता है, क्योंकिइस तरह केउपकरण के लिएबांस की गुणवत्तासबसे अच्छी पाईजाती है। यहवाद्य यंत्र अधिकतरडोरमेटरी जूकी केअंदर बजाया जाताहै; जहाँ छोटीलड़कियाँ सोती हैं।यह लड़कों औरलड़कियों दोनों द्वारा बजाया  जा सकता है, बिना किसी प्रतिबंधके और ही इस छोटेसे उपकरण कोसीखने के लिएऔपचारिक शिक्षण की आवश्यकताहोती है। इसयंत्र के बजाते समय चारअलगअलग आवाजेंआ  सकते हैं।ये चार आवाजेंअंगुलियों के खिंचाव, होठों का उपयोग, सांस लेने औरखिलाड़ी की जीभकी गति केकारण उत्पन्न होतीहैं। यह उपकरणबहुत सरल है, बनाने और बजाने  में आसान है, लेकिन इस अंगका विशेषज्ञ बननेमें लंबा समयलगता है। इसेमिडनाइट म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंटकेरूप में भीजाना जाता है

असेम Drum Which instrument is used in Manipur dance?

 

दोस्तों  अगर नागालैंड के म्यूसिकल इंस्ट्रूमेंट में असम के बारे मे बात न हो तो नागालैंड का लोक संगीत अधूरा रह जायेगा आइये जानते है की asem कैसे बनाया जाता है ?असेम – नक्काशीदार लकड़ी पर पशु की त्वचा के साथ एक ड्रम  बनाया जाता है

असम एक नागालैंड का महत्वपूर्ण वाद यन्त्र है जब भी कोई लोक नतृत्य हो और asem ना हो तो फिर बात ही अधूरी रह जाएगी 

 

जेमजी Jemji

 

 

 

यह एकप्रकार का सींगहै जो मिथुनके (नागालैंड केराज्य पशु) सींगका उपयोग कियाजाता है।

बम्बू बांसुरी Flute

 

 

 

नागा बांसुरी पतली बांससे बने सबसेसरल उपकरणों मेंसे एक है।यह विभिन्न धुनोंके साथ सुंदरध्वनि पैदा करताहै। इस तरहके बांस बांसुरीबनाने के लिएकेवल बांस कीएक विशेष गुणवत्ताका उपयोग कियाजा सकता है।यह बांस कीबांसुरी बनाने में बहुतआसान है। बांसुरीको बजाने  केलिए, यह व्यक्तिगतविशेषज्ञता पर निर्भरकरता है। महिलाऔर पुरुष दोनोंइसे समान रूपसे बजाने सकतेहैं।

’मैलेन’ Mailene

इस बांसुरी के समान एक अन्य प्रकार का संगीत वाद्ययंत्र, एओ बोली में ’मैलेनकहा जाता है, जो धान के पौधे की गांठ से बना होता है। बांस की बांसुरी की तुलना में इसका बनाना आसान है। इसकी पूरी लंबाई लगभग चार से पांच इंच है और सीसा पेंसिल जितना बड़ा है। इसे फसल के समय ही बनाया जाता है

बम्बू ट्रम्पेट Bamboo Trumphet

 

 

एक बांस तुरहीके मामले में, एक बांस कोदो नोड्स केसाथ लगभग 4-5 फीटके रूप मेंबड़ा काट दियाजाता है, एकऊपरी और दूसराकेंद्र या मध्यमें होता है।हालाँकि, निचले सिरे कोखुला रखा गयाहै। केंद्र नोडमें एक छेदएक स्पीयर ब्लेडकी मदद सेखोला जाता हैताकि ध्वनि कोजीभ के नियंत्रणमें म्यूजिकल टोनबनाने वाले छेदसे गुजरने मेंसक्षम किया जासके। फिर से, नोड के ऊपरीछोर में, एकछोटा सा छेदखोला जाता हैऔर एक अन्यछोटे बांस केपाइप को छड़ीया उंगली केआकार के रूपमें बड़ा कियाजाता है। यहछोटा पाइप ब्लोअरके होठों परलगाया जाना हैऔर इस तरहसे उड़ना शुरूहो जाता है, जीभ और होठोंको काबू मेंरखते हुए दोनोंहाथों से बम्बूट्रम्पेट को दबायाजाता है।

कप वायलिन the cup violin of nagaland

 

उन संगीतवाद्ययंत्रों में सेएक है जोलोकप्रिय रूप सेऑस द्वारा उपयोगकिया जाता है।कप वायलिन बनानेके लिए, कठोरऔर पतले बांसकी एक अच्छीगुणवत्ता का चयनकिया जाता है, या कभीकभीकरेले के एकखोल का उपयोगकिया जाता है।

 

इसके अलावा, खेलने केलिए एक धनुषकी आवश्यकता होतीहै। धनुष बनानेके लिए, दोचीजें महत्वपूर्ण हैं।सबसे पहले, एकपतली बांस कीचौड़ाई में आधाइंच और लगभगएक फीट लंबीजरूरत होती है।दूसरे, एक तेजफाइबर की मददसे एक बांसफाइबर को पतलाकिया जाता है।इस फाइबर काएक सिरा छड़ीके एक छोरपर बंधा होताहै और इसेचारकोल से साफकिया जाता है।अब, धनुष उपयोगके लिए तैयारहै।

 

मौखिक परंपरा के अनुसार, यह कहा जाताहै कि मनुष्यने केकड़े सेइस वाद्य कोबजाने की विधिसीखी। जब इसकीदस उंगलियां एकके बाद एकचलती हैं, तोयह पियानो बजानेवाले पियानोवादक कीउंगलियों की तरहदिखता है। इसआंदोलन से, मनुष्यने वायलिन बजातेसमय अपनी उंगलियोंका उपयोग करनासीखा। पुरुष औरमहिला दोनों इसयंत्र को बिनाकिसी प्रतिबंध केबजा सकते हैं।इस यंत्र कोकप वायलिन यामिड नाइट वायलिनकहा जाता हैक्योंकि यह मुख्यरूप से मध्यरात में खेलाजाता है

ताती Tati

ताती नागालैंडका एक एकलपारंपरिक वाद्य यंत्र है।इसका उपयोग अंगामीनागाओं और चकेसंगनागाओं द्वारा किया जाताहै। यह स्ट्रिंगइंस्ट्रूमेंट एक सूखेकैव्डआउट बॉटललौकी से बनाहोता है जिसेपतली फिल्म सेढक दिया जाताहै और एकपोल के एकछोर से जोड़दिया जाता है।पोल के दोनोंसिरों के बीचएक तार बंधाहोता है

पेटू – Petu

पेटू नागाओंद्वारा बजाया जाने वालाएक सामान्य संगीतवाद्ययंत्र है। अंगमिसऔर चकेशांग विशेषरूप से इसयंत्र के शौकीनहैं।

थेकू -Theku  

एकऔर लोकप्रिय स्ट्रिंगइंस्ट्रूमेंट है Theku कुछजनजातियों में, केवललड़कों को थेकूखेलने की अनुमतिहै, लड़कियों कोबदनाम किया जाताहै, जब वेयुवा लड़कों कोबहकाते हैं।

FAQ ON TRADITIONAL MUSICAL INSTRUMENTS OF NAGALAND & MANIPUR.

 

Which is the popular music from Nagaland? नागालैंड का लोकप्रिय संगीत कौन सा है?

नागालैंड का लोकप्रिय संगीत  हियरिलु गीत है | हियरिलु गीत  को नागालैंड के युद्ध गीत के रूप में जाना जाता है

हेलियामुले जिसे नागालैंड के नाच गाने के नाम से भी पुकारा जाता है, हियरिलु गीत  खासकर युवा ,बच्चे ,बुजुर्ग लोगो में काफी लोकप्रिय है | युवा इस मे बढ़चढ़कर हिस्सा लेते है नागालैंड का यह सब से पसंदीदा गीत है|

What are the most famous instruments?फेमस म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ नागालैंड?

बम्बू माउथ ऑर्गन (bamboo mouth organ of nagaland)

असेम 

जेमजी

 

बम्बू बांसुरी

 

’मैलेन

बम्बू ट्रम्पेट 

कप वायलिन

 

ताती

 

पेटू

 

थेकू(theku instrument)

 

Which dance form is famous in Nagaland?नागालैंड में कौनसा नृत्य रूपप्रसिद्ध है?

नागालैंड के लोक नृत्यों में मोदसे, अग्रिशिखुला, बटरफ्लाई डांस, अलयुत्तु, सदल केकई, चंगाई डांस, कूकी डांस, लेशालतु, खंबा लिम, मयूर डांस, मोयनाशो, रेंग्मा, सेचा और कुकुई कुचो, शंकई और मोयशाई आदि शामिल हैं। वार डांस और जेलियांग डांस हैं।

What is the least popular instrument? कम लोकप्रिय  म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट कौन सा है?

पेटी ,ताशे ,नागदा,ट्यूबा, ​​फ्रेंच हॉर्न और बेसून म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट यह लोगो में काम लोकप्रिय है |

 

Which is the hardest instrument to play? म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट  बजने मे कठिन हो कोनसा है ? 

 

कप वायलिन

बम्बू माउथ ऑर्गन

बम्बू बांसुरी

 

मैलेन

बम्बू ट्रम्पेट

 

 

 
 

 

तो कैसी लगी दोस्तों यह जानकारी आपके दोस्तों के साथ शेयर करिये फॉलो करिये 

 



 

YOU MAY LIKE >>

 

 

 

पब जी| PUBG MOBILE INDIA IS BACK | COMPLETE DETAILS मोबाइल इंडिया की पुन: वापसी

 

 

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Leave a Comment